Coronavirus Updates

भारत में अनलॉक 4.० की प्रक्रिया शुरू, मेट्रो शुरू करने की मिली मंजूरी , स्कूल और कॉलेज अभी भी रहेंगे बंद

आज पूरा विश्व कोरोना वायरस की इस महामारी से जूझ रहा है। भारत में करोना के कुल 36,91,166 मामले सामने आए है। भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 69921 नए मामले सामने आये। देश में 65288 लोगो की इस वायरस के करण मृत्यु हो गयी है। केंद्रीय स्वस्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में इस समय कोविड-19 के 785996 मरीजों का इलाज चल रहा है और 2839883 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके है।

देश की राजधानी दिल्ली में कुल 174748 कोरोना के मामले पाये गये है। तथा 4444 लोगो की इस वायरस के करण मौत हो चुकी है और 155678 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके है।

विश्व के कई देश इस वायरस की वैक्सीन बनाने में जुटे हुए है , भारत में इस वायरस की 6 वैक्सीन पर काम चल रहा है। रुस द्वारा निकाली गयी वैक्सीन पर WHO ने स्वीकृति नहीं दी है , भारत और रूस की वैक्सीन को लेकर बातचीत जारी है।देश की राजधनी दिल्ली में कोरोना का रिकवरी रेट 90 फीसदी के पार पहुंच गया है। दिल्ली में कोरोना वायरस बेदाम हो रहा है। विशेषज्ञों का कहना है की रिकवरी रेट का 90 फीसदी के पार जाना यह दिखाता है की इस बीमारी पर काफी हद तक लगाम लग चुकी है। दिल्ली के रिकवरी रेट को बढ़ाने के लिए दिल्ली सरकार भी अनेक प्रयासों में लगी हुए है।

मरीजों को सही समय पर अस्पताल पहुंचना , अस्पतालों में बैड की पूरी व्यवस्था करना आईसीयू बैड का ध्यान रखना , ऑक्सीजन की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धि करना आदि। इसी के साथ साथ देश मे अनलॉक 4.0 की भी प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। जिसमे स्कूल व कॉलेज को अभी भी खोलने की अनुमति नहीं दी गयी है। इसके अलावा दिल्ली में 7 सितम्बर से मेट्रो दुबारा शुरू हो रही है। मनोरंजन , अकादमी आदि 21 सितम्बर से खोल दिए जायेंगे। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने यह चेतवनी दी है कि कोरोना अभी भी पुरे विश्व में तेज़ी से फ़ैल रहा है। भारत में पिछले 15 दिनों में कोरोना के 70000 मामले सामने आये है।

विशेषज्ञों ने यह भी बताया की बहुत से मरीज़ ऐसे भी पाए गए हैं जिनमे कोरोना के कुछ खास लक्षण नहीं थे फिर भी उनके शरीर में यह वायरस पाया गया। विशेषज्ञों का यह भी कहना है की ऐसे मरीज़ो से ज्यादा संक्रमण फैलने का खतरा नहीं है।इसी बीच विश्व स्वस्थ्य संगठन ने ऐसी बात दुनिया के सामने रखी है जिसमे कोरोना वायरस के खत्म होने की आस को झकझोर कर रख दिया है। उनका कहना है की कोरोना वायरस की एक और लहर आ सकती है जो की काफी भयानक साबित हो सकती है। यह डर उन देशो के लिए है जहाँ कोरोना पर नियंत्रण पाया गया है। उन्होंने यह भी बताया है की कोरोना की पहली लहर पर काबू पाने के बाद यह ज़रूरी नहीं है की दूसरी लहर पर भी काबू पाया जाये। कोरोना की दूसरी लहर को काबू में करने के लिए यह बताया गया है की अनलॉक करते समय विशेष सावधानियों का ध्यान रखना होगा , भारत में अनलॉक 4.0 के शुरू होते ही भारत में बहुत तेज़ी से कोरोना के मामले बढ़े है।
इससे बचने के लिए सभी सावधानियों का पालन करना बहुत ज़रूरी है ताकि दूसरे चरण में यह महामारी भयानक रूप ना ले सके।

Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी