Delhi/NCR

2100 जगहों पर जली पराली ने की दिल्ली की सांसें काली – parali burnt on 2100 place in haryana punjab cause pollution in delhi

हाइलाइट्स:

  • दिल्ली की हवा शनिवार सुबह मामूली सुधार के साथ ‘बेहद गंभीर’ स्तर तक पहुंची थी
  • शाम होते-होते यह फिर से ‘खतरनाक’ हो गई और एयर इंडेक्स शाम को 403 हो गया
  • सैटलाइट तस्वीरों में गुरुवार को 2100 जगहों पर आग जलती दिखी, इतनी आग इस सीजन में कभी नहीं जली

नई दिल्ली
दिवाली के पटाखों के ‘खतरनाक’ स्थिति में आई दिल्ली की आबोहवा शनिवार सुबह मामूली सुधार के साथ ‘बेहद गंभीर’ स्तर तक पहुंची, लेकिन शाम होते-होते यह फिर से ‘खतरनाक’ हो गई। सुबह 394 तक गिरा एयर इंडेक्स शाम को 403 हो गया। इसकी मुख्य वजह पंजाब और हरियाणा में किसानों द्वारा पराली जलाने में बेतहाशा बढ़ोतरी रही।

केंद्र द्वारा संचालित एजेंसी सफर के मुताबिक, सैटलाइट तस्वीरों में गुरुवार को 2100 जगहों पर आग जलती दिखी। इतनी आग इस सीजन में कभी नहीं जली थी। यह सिलसिला शुक्रवार और शनिवार को भी जारी रहा। इसी का धुआं अब हाल बेहाल करने पहुंच रहा है।

इस बीच, EPCA ने प्रदूषण घटाने के लिए लगाए गए प्रतिबंधों को सोमवार तक बढ़ा दिया है। इनमें पूरे एनसीआर में निर्माण पर रोक, ईंट-भट्ठों समेत कोयला-बायोमास से चलने वाले उद्योगों पर बैन और मुंडका इंडस्ट्रियल एरिया में कामकाज पर रोक जैसे कदम शामिल हैं। गाजियाबाद में निर्माण कार्यों पर गुरुवार तक रोक रहेगी। मंगलवार-बुधवार को हल्की बारिश की संभावना के मद्देनजर अन्य सख्त कदम अभी नहीं उठाए गए हैं।

क्या है वायु गुणवत्ता (एयर इंडेक्स)
वायु गुणवत्ता 0 से 50 तक अच्छी मानी जाती है, 51 से 100 तक संतोषजनक, 101 से 200 तक मध्यम, 201 से 300 तक खराब, 301 से 400 तक बहुत ही खराब और 401 से 500 गंभीर मानी जाती है।


Source link

Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी