Coronavirus UpdatesDelhiDelhi/NCR
Trending

Delhi Coronavirus Update: दिल्ली में मास्क नहीं पहनने पर 7 दिन में 1 करोड़ का जुर्माना इकट्ठा

20000 से ज़्यादा लोगों को बिना मास्क के पाया गया और उन पर 500 रूपए का जुर्माना लगाया गया

एक तरफ जहाँ कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है और लोगों को खुद को तथा दूसरों को सुरक्षित रखने के लिए लगातार नियम निकाले जा रहे हैं वहीं दिल्ली के लोगों पर इसका असर कुछ ख़ास नहीं हो रहा है और इसका प्रमाण इस बात से मिलता है कि दिल्ली पुलिस ने अबतक 1 करोड़ से ज़्यादा का फाइन इकट्ठा कर चुकी है|

ये फाइन उन लोगों से लिया गया है जो लोग बाहर बिना मास्क के घूम रहे थें| अगर इस रकम पर नज़र डाली जाए तो ये काफी ज़्यादा है| आपको बता दें कि बिना मास्क के घूमने वालों से लगभग 500 रूपए का फाइन लिया जा रहा था | अगर आँकङो को देखा जाए तो लगभग 20000 से ज़्यादा लोगों को बिना मास्क के पाया गया और उन पर 500 रूपए का जुर्माना लगाया गया|

लोग लगातार सुरक्षा को ताक पर रख कर गैर जिम्मेदाराना हरकत कर रहें हैं

अगर इस पर गौर करें तो ये बात काफी हद तक सही है कि दिल्ली वासियों की लापरवाही ने कोरोना केस को और भी बढ़ा दिया है , वैसे भी इस समय कोरोना की वजह से दिल्ली में 2,88,000 से भी ज़्यादा आ चुके हैं हैं जिनमे से 5,572 लोगों की मौत हो चुकी है|

अगर दिल्लीवासी ऎसे ही नियमो का उलंघन करते रहें और लगातार सुरक्षा को ताक पर रख कर गैर जिम्मेदाराना हरकत करते रहें तो वो दिन भी नज़दीक होगा जब मरीज़ों की संख्या और भी बढ़ चुकी होगी और मौते आसमान छू रही होंगी| उस समय अस्पताल में भी लोगों को जगह नहीं मिलेगी जिसकी वजह से मौत में और भी ज़्यादा इज़ाफ़ा होगा|

फाइन 20 सितम्बर से 27 सितम्बर तक के बीच में इकट्ठा किया गया

दिल्ली सरकार ने जून के बीच में ये मुहीम चलायी थी कि बिना मास्क बाहर देखे जाने पर 500 रूपए का जुर्माना लगेगा तथा उसके बाद से ही उन लोगों से 500 रूपए वसूले जाने लगें जो बिना मास्क पहने बाहर दिख रहे थे | मौजूदा समय में दिल्ली में 200 टीम हैं जो इस तरह के हरकतों को रोकने के लिए बनायीं गयी हैं|

आपको बता दें कि ये 1 करोड़ से ज़्यादा का फाइन जून के महीने को मिला कर नहीं है बल्कि 20 सितम्बर से 27 सितम्बर तक के बीच में इकट्ठा किये गए फाइन ही 1 करोड़ रूपए तक पहुँच गया है| हाल के सप्ताहों में सरकार ने सार्वजनिक रूप से मास्क न पहनने के जुर्माने को सख्ती से लागू करना शुरू कर दिया है|

18 सितंबर को कानूनों को सख्ती से लागू करने का निर्णय लिया गया

18 सितंबर को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और एल-जी अनिल बैजल की बैठक में कानूनों को सख्ती से लागू करने का निर्णय लिया गया| सूत्रों की माने तो, अधिकारी कभी-कभी आम नागरिक की तरह कपड़े पहनते हैं, दिल्ली के विभिन्न क्षेत्रों में कारों के माध्यम से जांच करते हैं तथा जिन लोगों को अपने चेहरे को मास्क या कपड़े से ढ़के हुए नहीं पाया गया, उन्हें अपने वाहन पार्क करने और जुर्माना भरने को कहा गया|

सख्त होने का निर्णय मुख्यमंत्री के अनुरोधों और सरकार के कॉलर ट्यून के बावजूद लिया गया, लोग इन सब के बाद भी सावधान नहीं हो रहे थे|


यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-


Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी