Delhi/NCREducation
Trending

दिल्ली सरकार के निर्देश के बावजूद निजी स्कूलों पर मनमाने ढंग से फीस बढ़ा रहे है, बच्चो के अभिभावकों ने की शिकायत

अभिभावकों का कहना है कि जब स्कूल खुल नहीं रहे हैं तो इतना ज्यादा फीस किस बात की ली जा रही है

दिल्ली सरकार द्वारा सभी स्कूलों को फीस ना बढ़ाने के निर्देश के बावजूद भी कुछ निजी स्कूलों पर मनमाने ढंग से फीस बढ़ाने का आरोप लगा है | स्टूडेंट्स के पेरेंट्स ने इसके खिलाफ डायरेक्टरेट ऑफ़ एजुकेशन से इन स्कूलों के खिलाफ शिकायत की है | उन्होंने कहा है कि कई निजी स्कूलों ने अगस्त से स्कूल फीस बढ़ा दी है, स्कूल एनुअल फीस या डेवलपमेंट फीस नहीं ले रहे हैं लेकिन शिक्षण फीस को बढ़ा दिया है | अभिभावकों का कहना है कि जब स्कूल खुल नहीं रहे हैं तो इतना ज्यादा फीस किस बात की ली जा रही है | उन्होंने यह भी कहा कि एक ही स्कूल की दो शाखाएं है और दोनों में ही अलग-अलग फीस ली जा रही है, ये असमानता क्यों है |

यह भी पढ़ें – दिल्ली विश्वविद्यालय 12 अक्टूबर को जारी कर सकता है पहली कटऑफ

मनमाने ढंग से फीस ले रहे स्कूल, नहीं सुनी जा रही शिकायत

बता दें अभिभावकों का कहना है की निजी स्कूल जैसे डीपीएस अगस्त के बाद से नयी फीस की रशीद दे रहे हैं, जिसमें सिक्योरिटी फीस और परिचालन फीस शामिल किया गया है | लोगों का कहना है कि जब स्कूल खुल नहीं रहे हैं बच्चे भी स्कूल नहीं जा रहे तो स्कूल किस बात की सिक्योरिटी फीस ले रहे हैं | एक अभिभावक ने कहा की जब फीस उसी प्रकार बढ़ गया है जो लॉकडाउन के पहले था तो उन्हें किस बात की छूट दी जा रही है | ऐसे में पहले जो वे 9 हज़ार स्कूल फीस देते थे वहीं अब उन्हें 13 हज़ार तक फीस देने पड़ रहे हैं |

यह भी पढ़ें – कोरोना का बढ़ता कहर, दिल्ली में 5 अक्टूबर तक बंद रहेंगे सारे स्कूल

एक अन्य अभिभावक ने शिकायत की उन्होंने इस विषय पर स्कूल के प्रशासन से कई बार समय भी माँगा लेकिन उनकी बात को नजरअंदाज किया गया | कुछ अभिभावकों ने डीपीएस आर के पुरम के खिलाफ डीओआई से शिकायत की और कहा कि दोनों जब एक ही स्कूल हैं, भले ही शाखा अलग है फिर भी दोनों शाखा के फीस स्ट्रक्चर में अंतर क्यों है, इस पर स्कूल के प्रिंसिपल ने कहा कि पेरेंट्स के इन चिंताओं को डीपीएस सोसाइटी के सामने रखा गया है |

डीपीएस के प्रिंसिपल ने कहा पेरेंट्स के समस्याओं को डीपीएस सोसाइटी के समक्ष रखा गया

हाल ही में डीपीएस के तरफ से उनके वकील ने कहा कि स्कूल स्टूडेंट्स के लिए बंद हैं टीचर्स तो आ रहे हैं | ऐसे में उन्हें वेतन देना भी तो जरुरी है | आगे उन्होंने यह भी कहा की फीस बढ़ाने की अनुमति न देने को लेकर लॉकडाउन से पहले ही एक मामला अदालत में चल रहा है और मामले पर अभी कोई फैसला नहीं आया है | आगे डीपीएस आर के पुरम के प्रिंसिपल पद्म श्रीनिवासन ने सभी पेरेंट्स को ईमेल दवरा सूचित किया और कहा कि उनके फीस बढ़ाने तथा अन्य समस्याओं को डीपीएस सोसाइटी के समक्ष रखा गया है | साथ दिल्ली सरकार द्वारा फीस बढ़ाने कि अनुमति न देने का मामला अभी भी दिल्ली हाई कोर्ट में चल रहा है जिसपर 9 अक्टूबर को सुनवाई दी जाएगी | फ़िलहाल डीओई की तरफ से भी इस मामले पर कोई तत्काल प्रक्रिया नहीं मिली है |


यहां पढ़ें दिल्ली एनसीआर से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-


Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी