Delhi/NCR
Trending

हाथरस मामला: जंतर-मंतर पर हो रहे प्रदर्शन में शामिल हुए दिल्ली CM केजरीवाल, बोले- इस मुद्दे पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए

प्रदर्शनकारियों ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस्तीफा देने की मांग की

हाथरस गैंगरेप और हत्या मामले में पीड़िता को न्याय दिलाने की मांग को लेकर शुक्रवार (2 अक्टूबर) शाम को सैकड़ों नागरिक, छात्र, एनजीओ कार्यकर्ता और नेता जंतर-मंतर पर इकट्ठा हुए| प्रदर्शनकारियों ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस्तीफा देने की मांग की है और उत्तर प्रदेश पुलिस ने जिस तरीके से मामले को संभाला उसपर उनके खिलाफ नारे भी लगाए|

यह भी पढ़ें – राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को पुलिस ने लिया हिरासत में, धारा 144 के बाद पीड़िता के परिवार से मिलने पहुंचे

उन्होंने घटना के बाद भी हुए सभी घटित वाकये जैसे परिवार जनों को अंतिम संस्कार न करने देने पर भी अपनी नाराजगी जाहिर किया| साथ ही उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि राज्य में महिलाओं के खिलाफ हिंसा और दलितों के खिलाफ अत्याचार बढ़ रहे हैं और सरकारें चुप बैठी हैं वे कोई कठोर कदम कदम नहीं उठा रही है| आगे उन्होंने कहा कि सरकार जल्द से जल्द कोई एक्शन ले और दोषियों को फांसी की सजा सुनाये|

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भी शामिल हुए

बता दें इस प्रदर्शन में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भी शामिल हुए| उन्हों सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि जो कुछ भी हुआ वो काफी दर्दनाक है| उन्होंने कहा कि परिवार के ऊपर कोई प्रेशर न डाला जाये वे जिससे मिलना चाहते हैं उन्हें मिलने दिया जाये| साथ ही लोगों में यह धारणा बन रही है कि सरकार आरोपियों को बचाना चाह रही है, ऐसे में ऐसे मुद्दों पर कोई राजनीति न कि जाए चाहे मामला किसी भी राज्य का ही क्यों न हो|

यह भी पढ़ें – जिंदगी से जंग हार गई हाथरस की बेटी, दुष्कर्म पीड़ता ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ा

दोषियों को ऐसी सजा सुनाई जाये कि देश में ऐसी घटनाएँ फिर न हो| प्रदर्शन में शामिल एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने यूपी में राष्ट्रपति शासन लागू करने को कहा और राज्य में इस तरह के अपराध को रोकने-थामने में नाकाम हुए सरकार और पुलिस के ऊपर सीधा कटाक्ष किया|

भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर आज़ाद ने कहा सुप्रीम कोर्ट को मामले में एक्शन लेना चाहिए

साथ ही सीपीआई के सचिव सीताराम येचुरी ने भाजपा के शीर्ष अधिकारीयों और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस मामले पर चुप्पी साधने पर उनकी कड़ी निंदा करते हुए कहा कि सरकार की प्रतिक्रिया पार्टी के सत्तावादी चेहरे के बारे में बोलती है| भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर आज़ाद ने भी कहा कि केंद्र और सुप्रीम कोर्ट को इस मामले में कोई एक्शन लेना चाहिए |

आगे उन्होंने कहा कि वे पीड़िता के परिवार को इन्साफ दिला कर रहेंगे और तब तक प्रदर्शन करते रहेंगे जब तक योगी आदित्यनाथ इस्तीफा न दे दें, चाहे सरकार उन्हें कितनी ही कोशिश करके रोकना चाहे |

पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया

बता दें यह प्रदर्शन इंडिया गेट पर होने वाला था लेकिन पुलिस द्वारा इलाके में मोर्चाबंदी करने के बाद कार्यक्रम स्थल को जंतर-मंतर पर स्थानांतरित कर दिया गया। भीड़ बढ़ने के बाद जंतर मंतर पर लोगों को इकट्ठा होने से रोकने के लिए जनपथ, राजीव चौक और पटेल चौक मेट्रो स्टेशन के प्रवेश द्वारों को पुलिस द्वारा बंद कर दिया गया| जिसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया।

दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता ने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने COVID-19 के संबंध में रोकथाम के आदेशों और अन्य कानूनों का उल्लंघन किया है और उनके खिलाफ पार्लियामेंट स्ट्रीट पुलिस स्टेशन में महामारी अधिनियम और आपदा प्रबंधन अधिनियम की संबंधित धारा 51 B के तहत मामला दर्ज किया गया है।


यहां पढ़ें महत्वपूर्ण खबरें-


Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी