CareerEducation

NEET, JEE Main 2020: नहीं टलेगी जेईई-नीट परीक्षा, रोक के लिए SC में दायर पुनर्विचार याचिका खारिज

पिछले कई महीनों से चला आ रहा JEE NEET Exams का मुद्दा अब और तूल पकड़ता जा रहा है।जहां एक और सरकार और सुप्रीम कोर्ट ने परीक्षा को स्थगित करने से साफ़ इंकार कर दिया है वहीँ दूसरी और राज्य सरकारें और विद्यार्थी परीक्षा को अभी ना होने देने के लिए लगातार अर्जी दे रहे हैं. पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, झारखण्ड और वेस्ट बंगाल ने JEE NEET Exams hold करने के लिए अर्जी दी थी, जो सुप्रीम कोर्ट द्वारा शुक्रवार, 04 सितम्बर को खारिज कर दी गयी और अब revised schedule के मुताबिक 13 सितम्बर को NEET और 16 सितम्बर को JEE की परीक्षा ली जाएगी।

क्यों परीक्षा को स्थगित करने की मांग की जा रही है?

राज्य सरकारों द्वारा दी गयी अर्जी में परीक्षा को स्थगित करने का मुख्य कारण कोरोना महामारी को बताया गया । कहा कि जिस प्रकार से कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं, इस समय विद्यार्थियों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करना उचित नहीं है । रिव्यु पेटिशन में सुप्रीम कोर्ट का ध्यान आकर्षित करते हुए बताया गया कि महामारी की इस स्थिति में पुरे देश से लगभग 25 लाख अभ्यर्थी परीक्षा के लिए बैठेंगे जिसमे एक केंद्र पर 415 विद्यार्थी एक समय पर परीक्षा दे सकेंगे और वहीँ दूसरी ओर देश में कोरोना के मामले ३७ लाख के पार हो चुके हैं , जिस से covid फैलने का खतरा और बढ़ सकता है।

जेईई मेन (JEE Mains) की प्रमुख परीक्षाएँ विपक्षी दलों एवं विद्यार्थियों के विरोध के बावजूद पूरी सावधानियों के साथ 1 सितम्बर से शुरू हो चुकी है और एनईईटी (NEET) की परीक्षाएं 13 सितम्बर से शुरू होंगी।

यह भी पढ़ें – आखिर क्यों Exams के नाम पर छात्रों की सेहत के साथ खिलवाड़ हो रहा है?

किन सावधानियों के साथ शुरू हुई परीक्षाएं-

खबरों के अनुसार JEE mains की पहली परीक्षा के लिए हॉल में जाते ही सबसे पहले विद्यार्थियों के तापमान की जाँच की गयी और उसके बाद उन्हें mask और sanitizer भी दिए गए। सुप्रीम कोर्ट ने JEE और NEET की परीक्षाओं को स्थगित करने की याचिका को अस्वीकार कर दिया था और इस आदेश के खिलाफ विपक्षी शासित 6 राज्यों के मंत्रियों ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया लेकिन इन सब के बावजूद इन परीक्षाओं को स्थगित नहीं किया गया।
एनटीए(NTA ) ने यह दावा किया है की प्रवेश परीक्षाओं को आयोजित करने के लिए उचित इंतज़ाम व सावधानियां बरती हैं. एजेंसी ने कहा है की 99% से अधिक उम्मीदवारों ने केंद्र शहरों को परीक्षा के लिए चुना है।

छात्रों द्वारा प्रस्तुत किये गए नवीनतम घटनाक्रम –

दिल्ली केंद्र में सोशल डिस्टन्सिंग का ठीक से पालन किया जा रहा है।
हरियाणा के रहने वाले 18 वर्षीय के पुनीत ने कहा की पहले उन्हें परीक्षा हॉल में जाने से मापदंडो को लेकर डर लग रहा था परन्तु वहा पहुँचने पर देखा कि सभी नियमों का पालन किया गया है और सभी सावधानियां बरती गई हैं।

Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी