Education

JEE Advance latest update : परीक्षा में अनुपस्थित उम्मीदवारों को मिलेगा फिर से अवसर

शनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने Covid-19 के कारण सितंबर में नीट परीक्षा ना दे पाने वाले उम्मीदवारों के लिए दोबारा परीक्षा आयोजित करने पर सहमति बनाई|

जॉइंट एंट्रेंस बोर्ड (JAB) ने हाल ही में जेईई-एडवांस्ड 2020 के उम्मीदवारों के लिया एक बहुत ही अहम् फैसला लिया है| बोर्ड ने कहा की जो छात्र JEE Advance latest update के लिए सफलतापूर्वक पंजीकृत हुए थे लेकिन वे कोरोनोवायरस महामारी के कारण परीक्षा के लिए उपस्थित नहीं हो सके उन्हें 2021 में परीक्षा के लिए उपस्थित होने का एक और मौका दिया जाएगा| यह फैसला तब लिया गया जब हाल ही में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने Covid-19 के कारण सितंबर में नीट परीक्षा ना दे पाने वाले उम्मीदवारों के लिए दोबारा परीक्षा आयोजित करने पर सहमति बनाई| हालांकि, अधिकारियों ने अभी तक उन लोगों के लिए पुन: परीक्षा की घोषणा नहीं की है जो जेईई मेन्स के लिए उपस्थित नहीं हो सके थे|

इस साल 2.5 लाख छात्रों में से केवल 1.5 लाख छात्र ही उपस्थित हुए थे

इस साल जेईई मेन परीक्षा के लगभग एक चौथाई उम्मीदवार सितंबर में होने वाले परीक्षा को छोड़ दिया था| यही नहीं जेईई एडवांस 2020 के लिए उपस्थित होने वाले छात्रों की संख्या की रिकॉर्ड भी कम थी। परीक्षा में शामिल होने वाले 2.5 लाख छात्रों में से केवल 1.5 लाख छात्र ही उपस्थित हुए थे| आपको बता दें IIT दिल्ली इस साल IIT का आयोजन कर रहा है और JAB IIT का शीर्ष हिस्सा है, जो IIT में प्रवेश और चयन से संबंधित नीति, नियमों और विनियमों की मांग करता है| आईआईटी दिल्ली ने कहा कि शुरू में JAB उन छात्रों को ही अतिरिक्त मौका देने के बारे में सोच रहा था जो Covid-19 पॉजिटिव होने के कारण परीक्षा में अनुपस्थित थे, लेकिन बाद में इस वर्ष सभी अनुपस्थित उम्मीदवारों के लिए समान अवसर देने का फैसला किया गया|

आईआईटी दिल्ली ने JAB की बैठक में लिया फैसला

बता दें आईआईटी दिल्ली ने आईआईटी के संयुक्त प्रवेश बोर्ड (JAB) की बैठक में कहा की-प्रभावित उम्मीदवारों की चिंताओं को दूर करने के लिए और अन्य उम्मीदवारों को पूर्वाग्रह से बचाने के लिए उन सभी उम्मीदवारों को अनुमति देने का निर्णय लिया गया था, जिन्होंने सफलतापूर्वक जेईई एडवांस में उपस्थित होने के लिए पंजीकरण किया था, लेकिन जेईई एडवांस 2021 में उपस्थित होने के लिए परीक्षा में अनुपस्थित थे| इसके आलावा आईआईटी दिल्ली ने यह भी फैसला किया है कि इन उम्मीदवारों को जेईई मेन 2021 को क्वालीफाई नहीं करना होगा, और 2020 में उनके सफल पंजीकरण के आधार पर सीधे जेईई एडवांस्ड 2021 में उपस्थित होने की अनुमति दी जाएगी|

और भी कई अन्य फैसले लिए गए

साथ ही यह निर्णय भी लिया गया कि इन उम्मीदवारों को JEE Advance latest update 2021 में उपस्थित होने के लिए जेईई मेन 2021 से उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवारों की कुल संख्या के अलावा माना जायेगा और ना की उनके बराबर| आपको बता दें इस समय एक उम्मीदवार को IIT प्रवेश परीक्षा में केवल दो प्रयासों की अनुमति है, हालांकि काफी समय से छात्रों और शिक्षाविदों द्वारा प्रयासों की संख्या बढ़ाने की मांग की जा रही है|

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button