Entertainment
Trending

पदम् श्री और बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता Paresh Rawal बने नेशनल स्‍कूल ऑफ ड्रामा NSD के नए अध्‍यक्ष

बॉलीवुड के दिग्गज और सीनियर एक्टर परेश रावल को सम्मानित थियेटर इंस्टीट्यूट नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (NSD) का अध्यक्ष चुना गया है। उनको ये सम्मान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा दिया गया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एक्टर परेश रावल ने इस ही इंस्टीट्यूट से सीख कर अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की थी।

सांस्कृतिक मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने गुरूवार को इसकी घोषणा की

अब अभिनेता परेश रावल राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (National School of Drama) के नए अध्यक्ष हैं, सांस्कृतिक मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने गुरुवार 10 सितम्बर को ट्वीट के ज़रिये इसकी घोषणा की। उन्होंने ये कहा कि “प्रसिद्ध कलाकार परेश रावल को राष्ट्रपति भवन द्वारा राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है। मुझे खुशी है कि छात्र और कलाकार उनकी प्रतिभा का लाभ उठा पाएंगे। मैं उन्हें बधाई देता हूं।”

यह चुनौतीपूर्ण लेकिन मज़ेदार होगा – परेश रावल

65 वर्षीय परेश रावल को चार साल के लिए इस पद पर नियुक्त किया गया है। परेश रावल हिंदी फिल्मों के अलावा गुजराती थिएटर के भी दिग्गज हैं। परेश रावल ने खुद को NSD का अध्यक्ष चुने जाने पर समाचार एजेंसी PTI से बात करते हुए कहा, “यह चुनौतीपूर्ण लेकिन मज़ेदार होगा। मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूंगा क्योंकि यह एक ऐसा क्षेत्र है जिसे मैं बहुत अच्छी तरह से जानता हूं।

यह भी पढ़ें – क्या महाराष्ट्र सरकार से पंगा लेने का खामियाज़ा भुगत रहीं है कंगना?

नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा (NSD) ने परेश रावल का ट्वीट कर के स्वागत किया

नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा, (National School of Drama) जो कि देश का प्रमुख थिएटर स्कूल है, ट्वीट करके एक्टर और पदम् श्री विजेता परेश रावल को बधाई देते हुए स्वागत किया –

परेश रावल ने सन् 1985 से रखा था फिल्मों में कदम

भाजपा (BJP) के पूर्व सांसद परेश रावल को उनके प्रदर्शन की बहुमुखी प्रतिभा के लिए जाना जाता है। उन्होंने पहली भूमिका सन् 1985 की फिल्म अर्जुन में निभायी थी। परेश रावल को अपनी वर्सटाइल एक्टिंग के लिए भी काफी प्रशंसा मिलती है और उन्होंने अपने एक्टिंग के करियर में हर प्रकार की भूमिकाएं निभायी हैं, जैसे कि 1993 में सरदार वल्लभभाई पटेल की बायोपिक, हेरा फेरी फिल्म में कॉमिक और अंदाज़ अपना अपना में नेगटिव किरदार । परेश रावल का थिएटर करियर मुख्य रूप से गुजराती नाटकों पर केंद्रित रहा है, जिनमें से कई नाटकों में उनकी पत्नी संपत स्वरुप ने उनका सहयोग किया है।

यह भी पढ़ें – BMC द्वारा कंगना के ऑफिस तोड़फोड़ करने पर कंगना करेंगी केस

Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी