Entertainment

सुशांत सिंह राजपूत केस के लिए सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को जांच के आदेश दिए – जानिये किन तथ्यों के आधार पर सीबीआई(CBI) को केस सौंपा।

आखिरकार सुप्रीम कोर्ट का सुशांत केस में फ़ैसला आ गया जिसमे सिंगल बेंच के जज हृषिकेश रॉय ने सीबीआई को केस सौंपने का आदेश दे दिया है। इस आदेश के बाद  अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच शुरू करने के लिए सीबीआई की टीम जल्द ही मुंबई रवाना होगी। मुंबई जाने वाली सीबीआई टीम का नेतृत्व एसपी नूपुर प्रसाद करेंगे। सीबीआई टीम मुंबई पुलिस से मामले से जुड़े सभी दस्तावेजों को इकट्ठा करेगी और मुंबई पुलिस के जांच अधिकारिओ से भी बात कर सकती है।

सीबीआई की टीम सबसे पहले सुशांत सिंह राजपूत के बांद्रा वाले घर पर जाएगी जहाँ पर 14 जून को उनकी मौत हुई थी और उस समय पर मौजूद उनके दोस्तों, नौकर, कुक और उनकी बहन से भी पूछताछ कर सकती है।

सीबीआई जांच होने पर आया कोर्ट का फ़ैसला

सुशांत सिंह राजपूत के पिता के द्वारा बिहार पुलिस को दर्ज कराई गयी FIR को सही मानते हुए सीबीआई को जांच करने के आदेश दे दिए। कोर्ट ने बताया की यदि अब कोई सुशांत सिंह राजपूत मौत के सम्बन्ध में कोई भी मामला दर्ज होगा तो उस मामले की भी जांच CBI ही करेगी ।
कोर्ट ने आदेश दिया कि सुशांत की मौत की परिस्थितियों के संबंध में यदि कोई अन्य मामला दर्ज होता है तो उस नए केस की जांच भी सीबीआइ ही करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने जांच में लोगों का भरोसा कायम रखने और मामले में पूर्ण न्याय करने के लिए संविधान के अनुच्छेद 142 के तहत प्राप्त विशेष शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए यह अहम फैसला सुनाया है
(अनुछेद 142 – संसद द्वारा बनाए गए कानून के प्रावधानों के तहत सर्वोच्च न्यायालय को संपूर्ण भारत के लिये ऐसे निर्णय लेने की शक्ति है जो किसी भी व्यक्ति की मौजूदगी, किसी दस्तावेज़ अथवा स्वयं की अवमानना की जाँच और दंड को सुरक्षित करते हैं। )

 

अब बात आती है की आखिर कौन कौन सीबीआई की जांच का विरोध कर रहे थे?

सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसला आने से जहाँ सुशांत के परिवार और उनके शुभचिंतको ख़ुशी मिली है वही इस रिया चक्रवर्ती और महाराष्ट्र सरकार को झटका लगा है। रिया बिहार में दर्ज FIR को मुंबई में स्थानांतरित करवाने के मांग में थी, और रिया ने ट्वीटर पर गृहमंत्री अमित शाह से सीबीआई जांच करने की गुजारिश की थी।
रिया की याचिका लंबित होने के दौरान ही बिहार सरकार ने जांच सीबीआई को देने की सिफारिश कर दी। सीबीआई ने उसे स्वीकार करते हुए प्राथमिकी दर्ज कर जांच भी शुरू कर दी थी।

कई दिग्गज फिल्मस्टार ने सुशांत सिंह केस में आये इस कोर्ट के फैसले की जानकारी अपने ट्विटर अकाउंट पर दी, जिसमे अक्षय कुमार, परणिति चोपड़ा जैसे बड़े सितारे शामिल है।

मुंबई पुलिस किस आधार पर जाँच कर रही थी ?

14 जून 2020 को सुशांत सिंह राजपूत की मुंबई में बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में मृत पाए गए थे। मुंबई पुलिस ADR (Accidental Death Report) के आधार पर सिर्फ जांच के नाम पर पूछताछ कर रही थी क्योकि सुशांत की मौत के बाद से ही मुंबई की किसी भी पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज नहीं कराई गयी थी और इसी बीच सुशांत के पिता ने 25 जुलाई को पटना के राजीव नगर थाने में अभिनेत्री रिया व अन्य लोगों पर आरोप लगाते हुए एफआइआर दर्ज कराई। इसके बाद से जांच को लेकर महाराष्ट्र और बिहार के बीच क्षेत्राधिकार की खींचतान चल रही थी। जहाँ बिहार से मुंबई पहुंचे जांच अधिकारिओ में जांच करने में मुंबई पुलिस के द्वारा कोई मदद नहीं की गयी थी और आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को क्वारंटाइन कर दिया गया।

Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी