India
Trending

कांग्रेस कृषि बिल के विरोध में 25 सितम्बर को देश भर में आन्दोलन कर सकती है और भारत बंद भी किया जा सकता है

पिछले कुछ समय से BJP को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी जीडीपी, चीन विवाद, कोरोना संकट और अर्थव्यवस्था को लेकर घेर रहे हैं

राहुल गाँधी ने फिर BJP पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार ने केवल झूठे वादें किये है| मध्य प्रदेश में हुए किसान क़र्ज़ माफ़ी को लेकर राहुल गाँधी ने मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि- “BJP ने केवल किसानों को झूठे वादे दिए हैं और कांग्रेस ने MP में किसानों का क़र्ज़ माफ़ किया है| कांग्रेस ने जो कहा वो किया और बीजेपी ने सिर्फ झूठे वादे|” पिछले कुछ समय से BJP को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी GDP, चीन विवाद, कोरोना संकट और अर्थव्यवस्था को लेकर घेर रहे हैं|
अभी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी अपनी माँ सोनिया गाँधी के रूटीन चेकअप के बाद विदेश से लौटते ही BJP पर हमला बोल दिया| राहुल गाँधी ने जिस ट्वीट से बीजेपी पर हमला बोला उसमे बताया गया है कि मध्य प्रदेश कृषि मंत्री कमल पटेल ने बताया है कि मध्य प्रदेश में 51 जिलों में किसानों की कर्ज माफी हुई है|

ये भी पढ़ें- संसद में किसान बिल का विरोध: केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने दिया इस्तीफा

प्रदेश सरकार ने ये भी बताया कि राज्य में 1 लाख रूपए तक के कर्ज माफ़ कर दिए गए हैं

विधान सभा में भी राज्य सरकार ने कहा है कि 27 दिसंबर 2019 से पहले प्रथम चरण का कर्जमाफी अभियान चलाया गया था | तथा 27 दिसंबर 2019 के बाद दूसरे चरण का क़र्ज़ माफ़ी अभियान चलाया गया| प्रदेश सरकार ने ये भी बताया कि राज्य में 1 लाख रूपए तक के कर्ज माफ़ कर दिए गए हैं| यह वह वक़्त था जब राज्य में कांग्रेस कि सरकार थी और कमलनाथ सत्ता में थे|
आपको बता दें कि राहुल गाँधी अपनी माँ के सालाना चेकअप के लिए संसद सत्र से पहले दस दिन के लिए विदेश अपनी माँ के साथ गए हुए थें|

ये भी पढ़ें-  PM मोदी बोले- किसानों को भ्रमित करने में लगी हुई हैं कई शक्तियां

इस समय कांग्रेस अपने नेताओं को इकठ्ठा कर रही है तथा देश भर के कृषि संगठनों के बीच मंथन भी कर रही है

ख़बरों की मानें तो दोनों नेता ने विदेश रवाना होने से पहले कांग्रेस के नेताओं के साथ बैठक की थी| दोनों नेताओ ने विदेश जाने से पहले ही संसद में लोकसभा को अपनी यात्रा के बारे में बता दिया था| ख़बरों की माने तो कृषि बिल के खिलाफ कांग्रेस आंदोलन करने कि प्लान बना रही है| इस समय कांग्रेस अपने नेताओं को इकठ्ठा कर रही है तथा देश भर के कृषि संगठनों के बीच मंथन भी कर रही है| आपको बता दें कि कांग्रेस इस समय कृषि बिल के विरोध में 25 सितम्बर को देश भर में आन्दोलन कर सकती है तथा हो सकता है कि भारत बंद भी किया जा सकता है|

2 करोड़ मजदूरों और किसानो का हस्ताक्षर इकठ्ठा करेगी कांग्रेस

इसके साथ-साथ 2 अक्टूबर को कांग्रेस “किसान मजदूर बचाओ दिवस” मनाएगी और हस्ताक्षर अभियान के तहत देश भर में 2 करोड़ मजदूरों और किसानो का हस्ताक्षर इकठ्ठा करेगी| केंद्र द्वारा तीन विधेयक पास किये जाने पर किसान और मजदूर विरोध में इकठ्ठा हो रहे थें और इसी में राजनितिक दल कांग्रेस ने भी शामिल होने का फैसला किया है| 2 अक्टूबर जो कि गाँधी जयंती और शास्त्री जयंती के रूप में मनाया जाता है, उसको इस साल कांग्रेस ने “किसान मजदूर बचाओ दिवस” मानाने कि फ़िराक में है|


यहां पढ़ें दिल्ली एनसीआर से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-


Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी