India

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का 84 वर्ष की आयु में दिल्ली में हुआ निधन

 

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी जी का 31 अगस्त 2020 , सोमवार को दिल्ली के आर आर अस्पताल में निधन हो गया। दिल्ली छावनी में स्तिथ आर आर अस्पताल में 10 अगस्त को उनके मस्तिष्ट में जमे खून के थक्के को हटाने के लिए उनकी सर्जरी के लिए उन्हें भार्ति किया गया , बाद में फेफड़े में संक्रमण के कारण उनकी मृत्यु हो गयी। पुरे भारत के लिए ये एक शोक का समाचार है। उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी द्वारा ये जानकारी दी गयी।
अभिजीत मुखर्जी ने सोशल मीडिया पर अपने पिता के निधन पे अपना दुःख व्यक्त करते हुए कहा भारी मन से आपको ये सुचित करना है की मेरे पिताजी का अभी कुछ समय पहले निधन हो गया। आरआर अस्पताल के सभी डॉक्टर द्वारा सर्वोत्तम प्रयासों और आप सभी के प्राथनाओ और दुआओ के लिए में धन्यवाद कहता हूँ।


प्रणब मुखर्जी 84 वर्ष के थे।श्री प्रणब मुखर्जी 24 अक्टुबर 2006 से लेकर 22 मई 2009 तक भारत के विदेश मंत्री रहे।तथा २४ जनवरी 2009 से लेकर 24 जुलाई 2012 तक देश के वित मंत्री भी रहे। मुखर्जी जी ने 25 जून 2012 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया। वह देश के 2012 से 2017 तक देश के 13वे राष्ट्रपति रह चुके थे।

प्रणब मुखर्जी के निधन पर राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने सोशल मीडिया पर अपना दुःख व्यक्त करते हुए ये कहा की , `पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी के स्वर्गवास के बारे में सुन कर दिल को आघात पंहुचा। उनका देहवसान एक युग की समाप्ति है। श्री प्रणब मुखर्जी के परिवार , मित्रजनो और सभी देशवासिओं के प्रति मै गहन शोकसंवेदना व्यक्त करता हूँ।

वकैया नायडू ने यह प्रणब मुखर्जी के प्रति यह ट्वीट किया की ,` मुखर्जी के निधन से देश ने एक बुजुर्ग राजनेता को खो दिया है।वह सामान्य पृष्ठ भूमि से ऊपर उठकर अपने कठिन परिश्रम, अनुशासन और समपर्ण से देश के सर्वोच्च संवेधानिक पद पर पहुंचे थे।

 

देश के प्रधामंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अपना दुःख जतातेहुए ये कहा है कि आज पूरा देश शोक में डूबा हुआ है। उन्होंने कहा भारत , भारत रत्न श्री प्रणब मुखर्जी के निधन पर शोकाकुल है। उन्होंने हमारे राष्ट्र के विकास पथ पर एक अमिट छाप छोड़ी है।प्रधानमन्त्री ने कहा मै वर्ष 2014 में दिल्ली में नया था , मुझे पहले दिन से उनका मार्गदर्शन सहयोग पाने का सौभाग्य मिला , उनकी यादों को हमेशा संजोये रखूँगा।


कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि `हमारे पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी के निधन की दुखद खबर मिली। देश बहुत दुखी है। मै उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करने में खुद को देश के साथ जोड़ता हूँ। उनके
परिवारों और मित्रो के प्रति मेरे गहरी संवेदना है।

Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी