India

Haryana CM Khattar Meets Amit Shah Said Bringing Law For Recovery Of Damages To Public Property From Protesters | अमित शाह से मिले हरियाणा के सीएम खट्टर, कहा

नई दिल्ली: किसान आंदोलन के बीच हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से शनिवार को मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान आंदोलन पर भी चर्चा हई. उन्होंने कहा कि किसी को भी सार्वजनिक संपत्ति का नुकसान करने का अधिकार नहीं है, हम इससे संबंधित क़ानून लेकर आ रहे हैं.

इससे पहले 12 जनवरी को भी मनोहर लाल खट्टर ने दिल्ली में अमित शाह से मुलाकात की थी. जब पिछली बार खट्टर गृहमंत्री से मिलने आए थे तब उनके साथ राज्य के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला भी मौजूद थे. तब दोनों नेताओं ने कहा था कि हरियाणा सरकार को कोई खतरा नहीं है. बता दें कि हरियाणा में बीजेपी और जेजेपी के गठबंधन की सरकार है.

इससे पहले आज शनिवार को किसान आंदोलन पर दुष्यंत चौटाला के पिता अजय चौटाला का बयान सामने आया. उन्होंने कहा कि अगर दुष्यंत चौटाला के इस्तीफे से कुछ हल निकलता है तो वह उनकी जेब में है. उन्होंने कहा, “अभय सिंह चौटाला के इस्तीफे से कुछ हल निकला है क्या, दुष्यंत चौटाला का इस्तीफा मेरी जेब में है, अगर उससे हल निकलता है तो मैं अभी दे देता हूं. केंद्र का क़ानून बनाया हुआ है. केंद्र निर्णय करे या हरियाणा के 10सांसद इस्तीफा दें, जिन्होंने इसमें सहमति दी थी.”

गौरतलब है कि दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों को खिलाफ किसानों का आंदोलन 75 दिनों से अधिक समय से जारी है. किसानों की मांग है कि तीनों कृषि कानूनों को सरकार रद्द करे और न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर कानून बनाए. गतिरोध खत्म करने को लेकर सरकार और किसानों के बीच कई दौर की बैठक भी हो चुकी है लेकिन अभी तक कोई ठोस नतीजा सामने नहीं आया है. किसानों संगठनों के साफ तौर पर कहना है कि जब तक सरकार कानूनों को रद्द नहीं करती है तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा.

हरियाणा के कृषि मंत्री का विवादित बयान, कहा- जो 200 किसान मरे हैं, अगर घर पर होते तो भी मरते | कांग्रेस ने की बर्खास्त करने की मांग 




Source link

Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी