India

गृह मंत्री अमित शाह फिर एम्स में हुए भर्ती, देर रात अचानक बिगड़ी तबीयत, सांस लेने में परेशानी

15 दिन पहले ही मिली थी छुट्टी

भारत के गृहमंत्री अमित शाह को पिछले कई दिनों से सेहत से जुडी समस्यायों का सामना करना पड़ रहा है और हाल ही में उन्हें एक बार फिर से दिल्ली एम्स में देर रात 11 बजे भर्ती करवाया गया क्योंकि उनको फिर से सांस लेने में तकलीफ हो रही थी | आपको बता दें हाल ही में 2 अगस्त को अमित शाह कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे जिसकी पुष्टि उन्होंने अपने ट्वीट द्वारा की थी और इसके इलाज के लिए उनको गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में ट्रीटमेंट के लिए भर्ती कराया गया था |

उन्हें 14 अगस्त को डिस्चार्ज कर दिया था लेकिन फिर भी होम आइसोलेशन में रहने के लिए कहा गया

जहाँ डॉक्टर्स की टीम उनका इलाज कर रही थी लगभग दो हफ्ते तक अमित शाह कोरोना से लड़ते रहे और कोरोना को मात दी जिसके बाद उनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आयी, जिसकी जानकारी खुद अमित शाह जी ने अपने ट्विटर पर दी थी | इसके बाद अस्पताल से उन्हें 14 अगस्त को डिस्चार्ज कर दिया गया था और डॉक्टर्स द्वारा होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गयी थी |

उन्हें एम्स में पोस्ट कोविड ट्रीटमेंट के लिए भर्ती कराया गया था

हालांकि अस्पताल से छुट्टी मिलने के कुछ दिनों बाद भी उनकी सेहत फिर से खराब हो गयी तब उन्हें हल्के बुखार की शिकायत थी, जिसके बाद उन्हें एम्स में पोस्ट कोविड ट्रीटमेंट के लिए भर्ती कराया गया था | जहाँ अमित शाह की एम्स निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया की अगुवाई में डॉक्टर्स की टीम देखरेख कर रही थी | तक़रीबन 12 दिनों के इलाज के बाद उनकी शारीरिक स्थिति सही हुई और उन्हें एम्स से 31 अगस्त को डिस्चार्ज किया गया था |

जिसके बाद 1 सितम्बर को अमित शाह कैबिनेट बैठक में भी शामिल हुए, यह बैठक वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग द्वारा हुई थी जिसके दौरान पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी को श्रद्धांजलि दी गयी थी | अमित शाह ने बैठक कि तसवीरें सभी के साथ ट्विटर पर साझा की थी |
शनिवार देर रात को फिर से एम्स में दोबारा भर्ती करवाया गया, क्योंकि सूत्रों के मुताबिक़ कोरोना वायरस से उबरने के बाद से उन्हें सांस लेने में काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा था और इसी के चलते उनको शनिवार देर रात को एम्स में दोबारा भर्ती करवाया गया | हालाँकि इस बारे में एम्स प्रशासन ने आधिकारिक तौर पर कोई पुष्टि नहीं की है |

उनकी सांस सम्बंधित दिक्कत को लेकर इलाज़ किया जा रहा

बता दें फिलहाल गृहमंत्री अमित शाह को एम्स में कार्डिओ न्यूरो टावर में भर्ती करवाया गया है जहाँ उनकी हो रही सांस सम्बंधित परेशानी का इलाज़ किया जा रहा है| हाल ही में एम्स के एक सूत्र ने पत्रकारों से कहा है की ‘यह बेहतर होगा कि कुछ वक्त के लिए गृहमंत्री अमित शाह अस्पताल में ही रहें, जहाँ निगरानी में रखकर उनकी उचित देखभाल और इलाज़ किया जा सके |’ बता दें कि वेस्ट बंगाल में होने वाले चुनाव पर इनके स्वास्थ्य की वजह से खासा असर पड़ेगा| अभी के लिए उनको अपने स्वस्थ्य पर ध्यान देना होगा उसके बाद ही किसी भी तरह के चुनावी प्रचार और संसदिय बैठक में शामिल हो सकेंगे|

Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी