BusinessIndia
Trending

डिजिटल पेमेंट से देश में बढ़ी है वित्तीय धोखाधड़ी: अजीत डोभाल (National Security Advisor)

Cyber crime में 500% की बढ़ोत्तरी हुई है, केंद्र सरकार जल्द ही साइबर सिक्योरिटी 2020 लेकर आएगी

भारत के नेशनल सिक्योरिटी एडवाइजर अजीत डोभाल ने हाल ही में डिजिटल पेमेंट और उसमें होने वाली धोखाधड़ी पर अपना बयान दिया है| उन्होंने कहा की कोरोना महामारी में लोग ऑनलाइन पेमेंट का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल कर रहे हैं, जिससे ऑनलाइन फ्रॉड के cases में काफी बढ़ोत्तरी हुई है और इस पर पूरी तरह से निर्भर रहने से आने वाले समय में और भी ज़्यादा फ्रॉड केस होंगे | उनका यह भी कहना है कि केंद्र सरकार जल्द ही साइबर सिक्योरिटी 2020 लेकर आने वाली है, जिसके तहत नेशनल सिक्योरिटी के लिए एक भरोसे वाला, जीवंत और काफी लचीला साइबर स्पेस जारी किया जायेगा |

ये भी पढ़ें- अलकायदा के 9 आतंकी गिरफ्तार : NIA ने बंगाल और केरल में कई ठिकानों पर की छापेमारी

ऑनलाइन कॉन्फ़्रेंसिंग द्वारा ऑनलाइन सिक्योरिटी को लेकर अपना बड़ा बयान दिया

केरला पुलिस और Society for Policing of Cyberspace and Information Security Research Association द्वारा आयोजित कांफ्रेंस में ऑनलाइन सिक्योरिटी को लेकर अपना बड़ा बयान दिया | कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए, केरला के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने भी लोगों को इंटरनेट पर कुछ भी करते समय सतर्कता और सावधानी रखने की राय दी | डोभाल ने केरला पुलिस और सोसाइटी फॉर द पुलिसिंग ऑफ़ साइबर स्पेस एंड इनफार्मेशन सिक्योरिटी रिसर्च एसोसिएशन के इस प्रयास की काफी सराहन भी की |

ये भी पढ़ें- बिहार को PM मोदी की सौगात – PM नरेंद्र मोदी ने बिहार में डिजिटल क्रांति लाने का वादा किया

साइबर क्राइम में 500% की बढ़ोत्तरी हुई है

डोभाल ने कहा कि कोरोना के कारण कैश हैंडलिंग में कमी आयी है और ऑनलाइन पेमेंट में बढ़ोत्तरी हुई है | आगे उन्होंने कहा कि कोरोना आपदा में ऑनलाइन पेमेंट पर निर्भरता से ऑनलाइन कई डाटा शेयर हो रहे हैं | सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर भी लोगों की मौजूदगी बढ़ी है | ऐसे आपदा के समय में हैकर्स भी इसको एक अवसर के रूप में देख रहे हैं और तमाम तरह के फ्रॉड्स को अंजाम दे रहे हैं | मौजूदा समय में साइबर क्राइम में 500% की बढ़ोत्तरी हुई हैं | वहीं कुछ रिपोर्ट्स की मानें तो 2019-2020 के दौरान बैंकों और कई financial organization में धोखाधड़ी के कुल 85 हज़ार मामले सामने आये हैं जिसमें लगभग 1,85,772.42 करोड़ रूपये की राशि शामिल है |

लोगों को सतर्क और सावधान रहने की हिदायत दी

सिक्योरिटी एडवाइजर अजीत डोभाल ने यह भी कहा की दुश्मन इस आपदा के घडी का पूरा फायदा उठाना चाहते हैं जिसके लिए वे फेक न्यूज़ और गलत सूचनाओं का सहारा ले रहे हैं | ऐसी चीजें आये दिन हमें देखने को भी मिल जाती हैं और अधिक जानकारी और समझदारी न होने के कारण हम झांसे में फंस भी जाते हैं | ऐसे में उन्होंने लोगों को ऑनलाइन रहते समय अधिक सतर्क और सावधान रहने की हिदायत दी है और कहा कि इंटरनेट का उपयोग करते समय एक जिम्मेदार नज़रिया रखें |

कांग्रेस ने निशाना साधा

आपको बता दें कि अजीत डोभाल के इस बयान के बाद कांग्रेस के नेता जयराम रमेश ने उनके ऊपर निशाना साधा और ट्वीट करके कहा कि पहले इनके बॉस ने कहा कैशलेस, फिर कहा काम नकद और अब अजीत डोभाल कह रहे हैं कि डिजिटल पेमेंट सुरक्षित नहीं है, उससे धोखाधड़ी बढ़ रही है, असल में तो 2016 में हुई नोटबंदी ही सबसे बड़ा फ्रॉड था |


Latest India News…


Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी