India

सुशांत सिंह राजपूत केस ने लिया एक नया मोड़ – क्या इसमें अब ड्रग माफिया भी शामिल?

सुशांत सिंह राजपूत के केस में एक के बाद एक सनसनीखेज़ खुलासे

सुशांत सिंह राजपूत का केस अब एक अहम मोड़ ले चुका है जिसमें CBI को केस सौंपने के बाद रोज नए नए राज़ खुल कर सामने आ रहे हैं. जिस दिन से सुशांत सिंह की मौत का पता चला था उस दिन से लेकर आज तक पता नहीं कितनी ही बातों से पर्दा उठ रहा है. जहां शुरुआत में इसको आत्महत्या का मामला माना जा रहा था वहीं आज इसको मर्डर बताया जा रहा है लेकिन एक बात जो अब तक साफ़ नहीं है वो ये की आखिर सुशांत सिंह राजपूत की मौत की असली वजह क्या थी?

सीबीआई की टीम ने आज फिर से दीपेश, सिद्दार्थ, केशव और नीरज इन चारो से DRDO ऑफिस में पूछताछ की, 6 दिन की लगातार पूछताछ में नीरज से 5 दिन 4 दिन सिद्धार्थ पिठानि और दीपेश से और केशव से दो दिन पूछताछ हुई है. नीरज से ज्यादा पूछताछ इसलिए भी ज्यादा की गयी क्योकि वो ही सुशांत के पास ज्यादा रहा था
आज नीरज, सिद्धार्थ और से केशव से अलग अलग पूछताछ हुई और इस पूछताछ में तीनो के बयान अलग अलग भी मिले.इसके बाद इन तीनो को साथ बैठा के एक साथ पूछताछ भी की गयी. लेकिन अब तक खबर के मुताबिक रिया से कोई पूछताछ सीबीआई के द्वारा नहीं हुई है.

सुशांत केस में आया एक दूसरा मोड़

ED की पूछताछ के दौरान रिया से सुशांत के बैंक स्टेटमेंट और ATM से jपैसे निकलने की बात पूछी थी, ED ने इसमें ध्यान दिया की कुछ सुशांत के अकाउंट से कई दिनों तक हर 4 घंटे में 20000 , 25000 रुपए निकले गए तब ED रिया और बाकी लोगो से बार फिर से पूछताछ करती है. फिर पता चला की जो पैसे सुशांत के अकाउंट से हर 4 घंटे में निकले गए थे उसका उपयोग ड्रग खरीदने के लिए किये गए थे, जहां एक तरफ सीबीआई सुशांत हत्या में जांच कर रही है और ED मनी लॉन्डरिंग केस में जांच कर रही है तो अब ड्रग का मामला आने पर नारकोटिक्स भी इस केस में अपनी जांच शुरू कर सकती है. इसके लिए ed नारकोटिक्स एजेंसी को लेटर लिख चुकी है। NCB को लेटर मिलने के बाद डायरेक्टर राकेश अस्थाना इसकी पुष्टि करते है की “हमको ED से लेटर मिला है और कुछ whatsapp chat मिले है. इस chat में रिया के अलावा श्रुति मोदी (सुशांत की मैनेजर) भी है. ED की जितने भी चाट मिली है वो सब रिया अपने फ़ोन से डिलीट कर चुकी थी ED इन मैसेज को फिर से retrieve किया और फिर NCB को भेजा.

 

रिया का ड्रग कनेक्शन

क्या रिया ड्रग डीलर थी, buyer थी या सप्लायर थी ? ड्रग का मामला आने पर सुशांत के पिता की वकील ने कहा की ” पहले FIR में लिखा था की सुशांत को ड्रग्स का ओवरडोज़ दिया जाता था जो की prescribed ड्रग्स थी साथ में ban ड्रग्स भी दिया करती थी

 

अब जांच कौन कौन सी एजेंसी करेगी ?

हम सब इस बात से सहमत हैं कि मुंबई पुलिस ने जांच के नाम पर सिर्फ खेल किया और इसके ही कारण ये केस बिहार पुलिस और बाद में ED को दिया गया. उसके बाद सीबीआई को ये केस सौंपा गया. जांच में मिले सबूतों के आधार पर CBI ने साइकोलॉजिकल ऑटोप्सी करने की बात कही है. अब NCB (Narcotics Control Bureau) को भी इस केस की जांच के लिए शामिल किया जा सकता है. अब तीन एजेंसी इस इस मामले की जांच करेगी , सीबीआई, एड और NCB

1 – सीबीआई – सुशांत के मौत के सच की जांच करेगी
2 – ED (Enforcement Directorate ) – सुशांत के पैसो की जांच
3 – NCB (Narcotics Control Bureau ) – सुशांत के आस पास के लोगो के ड्रग्स लिंक की जांच करेगी

Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी