India

Water Canon Used On Congress Protesters In MP Who Protest Against Kangana Ranaut

मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में पुलिस ने शुक्रवार शाम बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के विरोध में उनकी फिल्म के शूटिंग स्थल पर प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पानी की बौछार की. जिले के स्थानीय कांग्रेस नेताओं ने दो दिन पहले कहा था कि दिल्ली में किसानों के आंदोलन संबंधी ट्वीट के लिए कंगना किसानों से शुक्रवार तक माफी मांगें, अन्यथा वह अभिनेत्री को यहां शूटिंग नहीं करने देंगे और उनके खिलाफ प्रदर्शन करेंगे.

कांग्रेस नेताओं की इस धमकी को लेकर पुलिस ने शुक्रवार को जिले के सारणी में भारी सुरक्षा व्यवस्था की. शुक्रवार शाम कंगना की फिल्म ‘धाकड़’ के शूटिंग स्थल पर सारणी में कोयल बिजली संयंत्र के गेट नंबर एक पर 100 से अधिक प्रदर्शनकारी एकत्र हो गए. सारणी के नगर पुलिस अधीक्षक (सीएसपी) अभय राम चौधरी ने कहा कि प्रदर्शनकारियों को दमकल गाड़ियों से पानी की तेज बौछारें छोड़कर वहां से हटाया गया.

उन्होंने बताया कि कंगना आम तौर पर शूटिंग स्थल पर शाम छह बजे के आसपास पहुंच जाती हैं. लेकिन शुक्रवार शाम उनका शूटिंग के लिए देर से आने का कार्यक्रम तय हुआ था और जब प्रदर्शनकारी शूटिंग स्थल पर जमा हुए तो कंगना वहां मौजूद नहीं थीं. चौधरी ने स्थानीय कांग्रेस की इकाई के इस आरोप से इनकार किया कि प्रदर्शकारियों जिनमें महिलाएं भी शामिल थीं, के खिलाफ पुलिस ने लाठियों का इस्तेमाल किया. इस घटना पर कंगना रनौत ने कहा कि मेरे आसपास पुलिस की सुरक्षा बढ़ा दी गई क्योंकि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मध्य प्रदेश में मेरे शूटिंग को रोकने के लिए विरोध प्रदर्शन किया. कांग्रेस के विधायक ये कह रहे हैं कि वे किसानों के आधार पर यह प्रदर्शन कर रहे हैं.

गुरुवार को इस मामले में प्रदेश के गृह मंत्री ने जिला पुलिस अधीक्षक को यह सुनिश्चित करने को कहा था कि फिल्म की शूटिंग बाधित न हो. सीएसपी ने बताया कि सारणी से लगभग 45 किलोमीटर दूर कंगना के ठहरने के स्थान पर भी एक पुलिस निरीक्षक को उनकी सुरक्षा की ज़िम्मेदारी दी गई है. उन्होंने कहा, ‘‘निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सारणी में कंगना की शूटिंग 17 फरवरी को समाप्त होगी.’’ गौरतलब है कि कंगना की नई फिल्म ‘धाकड़’ की बैतूल जिले के सारणी इलाके में शूटिंग चल रही है.

प्रदेश कांग्रेस सेवा दल के सचिव मनोज आर्य और बैतूल जिले के चिचोली ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नेकराम यादव ने बुधवार को बैतूल में तहसीलदार को इस मामले में एक ज्ञापन सौंपा था. इसमें कहा गया था कि अगर कंगना ने दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसानों के आंदोलन के खिलाफ अपनी टिप्पणी पर शुक्रवार शाम तक माफी नहीं मांगी तो उन्हें सारणी के इलाके में फिल्म की शूटिंग करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि कंगना ने किसानों को बदनाम किया है. उल्लेखनीय है कि ट्विटर ने हाल ही में किसानों के विरोध को लेकर कंगना के कुछ विवादास्पद ट्वीट् हटा दिए हैं.




Source link

Related Articles

Back to top button
English English हिन्दी हिन्दी